childhood is the happiest moment of a person's life

childhood is the happiest moment of a person's life

दोस्तो आज कल की इन आधुनिक और  सवेदनशील दुनिया मे शायद ही कभी हुमे कुछ ऐसे पल को याद करने का मौका मिलता है जिस पल के साथ कभी हमारा अटूट रिश्ता हुआ करता था । आज Knowledge Panel  मे हम  ऐसे ही कुछ अनोखे और कभी न भूल पाने वाले पलों की चर्चा करेंगे।


तो आइये याद करें उन पलों जो कभी लौट कर वापस नहीं आ सकता जो आज बस एक याद बन कर रह गई है दोस्तो उन खास पलों का हमारे जीवन मे अत्यंत महत्वपूर्ण स्थान है । हम उन्हे याद करके अपने अपने वाले कल को एक शिक्षा दे सकते है ।
childhood is the happiest moment of a person's life
दोस्तो इसे देख कर आपको कुछ तो याद आया होगा , ये वो खिलौना है जिससे हम सबने अपने बचपन मे खेला है याद कीजिये जब आप बचपन मे मेले घूमने जाया करते थे और पूरे मेले मे हमे सिर यही खिलौना पसंद आती थी और आप इसे लेने का ज़िद किया करते है । लेकिन दोस्तो आज ये हमे मेले मे शायद ही कहीं दिखता है न ही आज कल के बच्छे इसे लेने का ज़िद करते है । 
childhood is the happiest moment of a person's life
दोस्तो ये है हम सब के जीवन का वो हिस्सा जिससे हमने पढ़ना लिखना और जीवन मे कुछ कर गुजरने सीखा,याद कीजिये वो पल जब आप सरकारी स्कूल मे पढ़ रहे थे  स्कूल परीक्षा के समय आपके पिताजी आपके लिए ये कॉपी लेकर आया करते थे जिसका एक पेज आप अक्सर भगवान के नाम पे छोर दिया करते थे । 
दोस्तो ये है वो सिक्के जिसे लेकर हम अक्सर स्कूल जाया करते थे याद आया कुछ? जी हाँ दोस्तो ये वही सिक्के है जो हमे हमारी माँ देती थी स्कूल मे टिफिन कहने के लिए और हम इस 5-10 पैसे को  बचा कर जोड़ जोड़ कर 1 रुपए बना लेते थे। 

दोस्तो ये खेल याद है न आपको जो अक्सर हम स्कूल मे खेला करते थ
ये तो हम सब का पसंदीदा था 
दोस्तो कोलगेट के ये डिब्बे याद है न आपको जो हर रोज सुबह जग करके हथेली मे पाउडर लेकर ब्रश करना और आज शायद ये कहीं नजर नहीं आता  
दोस्तो इसे शायद हम सब बड़े शौक से खेला करते थे अक्सर जब क्लास मे टीचर नहीं रहते तो आप अपने दोस्तो के साथ ये जरूर खेलते होंगे और जो चोर बनता उसे पूरा दिन चोर चोर कह कर चिड़ाया करते थे। ये खेल शायद समय के साथ बदल गया और आज के बच्चे इसे छोर तास और जुआ जैसे खेल खेलने लगे है।  
आज कल के बच्चे शायद इसे कभी नहीं देखे होंगे 
उस जमाने के सबसे प्रसिद्ध टॉफी हुआ करती थी जिसे हम सब एक एक कर खाया करते थे और दोस्तो के बीच भी बांटते थे । 
दोस्तो ये 1 रुपये का नोट सरकार ने बंद कर दिया लेकिन आज भी आपको याद होगा जब ये नोट आपके  पास आता तो आप कितने खुश हो जाते थे । ये आज भी आपके पास किसी किताब के अंदर होगा। 
ये Audio Cassettes उस दौर का सबसे मनोरंजक चीज हुआ करती थी अपनी कलम मे डाल कर आप इसे घुमए जरूर होंगे लेकिन आज ये आपको काही भी नहीं मिलेगी ।  
नागराज और चाचा चौधरी के ये कौमिक्स बच्छों बूढ़े सभी के चाहिते थे और इसे पढ़ने का इतना शौक था जिसके लिए लोग 15 रूपय हर दिन के भाड़े पर लाया करते थे लेकिन आज  मोबाइल,विडियो गेम और इंटरनेट ने इनकी जगह ले ली आज ये सिर्फ याद बन कर रह गए है । 
ये ऑरेंज और नमकीन टौफ़ी जो आज भी आपको लोकल ट्रेन मे मिल जाएगी पर वो स्वाद नहीं जो उस समय हुआ करती थी जिसे हम सब बड़े चाव से खाते थे 
इस स्वाद का स्वाद आज भी याद है सब को  
आहट उस जमाने के सबसे भूतहा सीरियल हुआ करती थी और शक्तिमान हम सब का सुपर हीरो था  । 
दोस्तो अगर आपको ये आर्टिक्ल पसंद आया तो Like Comment Subscribe और share करना न भूले इससे हमे और भी बेहतर आर्टिक्ल लिखने की प्रेरणा मिलेगी । ऐसे ही और भी Knowledgeable Thought and News के लिए Subscribe जरूर करे। subscribe करने के लिए Subscribe Box मे अपने Email ID डाले
 Friends if want to get exciting News and Thought Please Subscribe,Share and Like my post


Share:

0 comments:

Post a Comment

अगर आपको हमारी जानकारी अच्छी लगी या फिर कोई संदेह हो तो हमे बताएं. If you have any doubts please let me know.

Featured Post

Whts is NRC,CAB and CAA in Hindi

Hello Friends भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतान्त्रिक देश है जिसकी सभ्यता इसकी संस्कृति संविधान व कानून की सरलता ही इसे दुनिया मे अपनी एक अल...

Translate