Showing posts with label guest post. Show all posts
Showing posts with label guest post. Show all posts

History of Whatsaap A True Leader of Messenger Apps Some interesting abouts in whatsapp


WhatsApp: A True Leader of Messenger Apps

 Hello Friends वर्तमान मे Social Media दुनिया के हर कोने मे अपनी जगह बना चुका है, हर Generation के लोग अपने दैनिक जीवन मे Social Media से घिरे रहते है।

Social Media के कई सारे Platform है जैसे Facebook, Twitter, YouTube Whatsapp,Telegram, Snapchat etc जैसे कैसे सारे Platform इंसान के जीवन का हिस्सा बन चुकी है। इनमे से जो सबे ज्यादा चलन है वो है Whatsaap का और आज हम बात करेंगे इसी के बारे मे जनेगे कैसे हुई Whatsaap की शुरुआत और भी बहुत कुछ ।

ये Article हमारे Knowledge Panel के चाहिते पाठक Mr Ajit Yadav जी ने भेजा है जिन्हे Social Media के अलावे नए नए विचारों को Blogging के जरिये हम सब तक पहुंचाने का शौक रखते है तो आइये पढ़ते है Whatsaap के बारे मे कुछ रोचक और महत्वपूर्ण जानकारी ।

visit ajit kumar's blog - Blog :- https://downloadstatus.xyz

What is WhatsApp

आज के दिन WhatsApp एक ऐसा नाम है जो शायद ही किसी ने ना सुना हो। WhatsApp एक ऑनलाइन Messenger App है जो इंटरनेट की सहायता से हमारे मैसेज का आदान प्रदान करती है। वैसे तो इंटरनेट की दुनिया ऐसी बहुत सारी Apps हैं जैसे की Hike, Facebook messenger, Instagram, Line, इत्यादि परन्तु WhatsApp इनसे कहीं ज्यादा फेमस और ज्यादा प्रयोग की जाने वाली App है। यह App कई सारे ऑपरेटिंग सिस्टम प्लेटफार्म के लिए उपलब्ध है जैसे की Android, IOS, Symbian, इत्यादि। आप व्हाट्सप्प को Windows OS पर ब्राउज़र में भी चला सकते हैं इसके लिए आपको अपने ब्राउज़र में web.whatsapp.com खोलना है और अपने व्हाट्सप्प अकाउंट से उसे कनेक्ट करना है।

 The Origin of the WhatsApp

व्हाट्सप्प का आविष्कार सन 2009 में Mr. Jam Koum ने किया। उस वक़्त यह अपने आप में एक अनोखी App थी। उस वक़्त लोगों के लिए SMS ही messaging का एकमात्र तरीका था और इसके लिए लोगो को pay करना पड़ता था। उस वक़्त मोबाइल कम्पनीज का SMS चार्ज भी बहुत ज्यादा हुआ करता था। इसलिए लोग जब बहुत जरूरी हुआ करता था तभी मैसेज किया करते थे। व्हाट्सप्प के आने से मैसेज करने का तरीका आसान और फ्री हुआ , इसके लिए लोगों को सिर्फ डाटा पैक की जरुरत पड़ती थी। इसलिए व्हाट्सप्प ने बहुत कम समय में बहुत सारा market acquire कर लिया और इसके users की संख्या दिन ब दिन बढ़ती गयी। आज की तारीख में व्हाट्सप्प के 2 बिलियन users हैं और अभी भी दिन ब दिन इनमे इज़ाफ़ा हो रहा है।

 Facebook Deal

अगर हम ये कहें की व्हाट्सप्प ने messenger App के एरिया में एकक्षत्र राज कर लिया है , तो ये कोई अतिश्योक्ति नहीं होगी। आज की तारीख में अकेले व्हाट्सप्प ने इस मार्किट का लगभग 70% एरिया acquire कर रखा है। बाकी के 30% में और सभी messenger Apps आते हैं जैसे कि Hike, Facebook messenger, Instagram, WeChat, इत्यादि।

व्हाट्सप्प की बढ़ती लोकप्रियता देख कर Facebook के मालिक Mark Zuckerberg ने Mr. Jam Koum को व्हाट्सप्प खरीदने का ऑफर दिया और यह डील 1.5 billion $ में फाइनल हुई। अब यह डील किसके लिए फायदेमंद साबित हुई यही नहीं कहा जा सकता। क्योंकि 1.5 billion $ बहुत बड़ी रकम होती है । लेकिन अगर व्हाट्सप्प की लोकप्रियता और users का ग्राफ देखें तो हम ये भी कह सकते हैं की Mark Zuckerberg के लिए ये डील फायदेमंद ही रही।

WhatsApp Features

2009 में जब व्हाट्सप्प पहली बार market में आया तब यह एक सिंपल messenger Apps था जो मैसेज के आदान प्रदान के लिए प्रयोग होता था। मगर समय के साथ साथ इसमें कई सरे फीचर्स ऐड किये गए जैसे की इमेज शेयरिंग , वीडियो शेयरिंग , व्हाट्सप्प स्टेटस अपलोड , एप्लीकेशन शेयरिंग इत्यादि। आइये आपको वाहट्सएप्प के फीचर्स के बारे में विस्तार में समझते हैं।

1.    इमेज और वीडियो शेयरिंग : व्हाट्सप्प पर आप अपने कांटेक्ट से इमेज या वीडियो शेयर कर सकते हैं। इस फीचर की सहायता से आप अपने फ़ोन में सेव इमेज या वीडियो शेयर कर सकते हैं या फिर डायरेक्ट फोटो खींच कर या वीडियो बना कर शेयर कर सकते हैं। 

2.    whatsaap status : व्हाट्सप्प स्टेटस एक ऐसा फीचर है जिसकी सहायता से आप अपनी फीलिंग्स लिख कर या इमेज और वीडियो अपलोड करके एक्सप्रेस कर सकते हैं। जब भी आप अपना स्टेटस अपडेट करते हैं तो आपके सारे कॉन्टेक्ट्स उसे देख सकते हैं और ये स्टेटस 24 घंटे तक आपके व्हाट्सप्प स्टेटस पर रहता है। अगर आप चाहते हैं की आपका स्टेटस कोई पर्टिकुलर कांटेक्ट देखे या पर्टिकुलर कांटेक्ट ना देखे तो आप अपनी स्टेटस सेटिंग्स में जाकर ये सेट कर सकते हैं।

3.    App शेयरिंग : अप्प शेयरिंग की सहायता से आप अपने फोन में इनस्टॉल किसी भी App की APK व्हाट्सप्प पर शेयर कर सकते हैं।

4.    WhatsApp Pay: WhatsApp Pay व्हाट्सप्प का सबसे लेटेस्ट फीचर्स है। इस फीचर की सहायता से आप कैशलेस ट्रांसक्शन बड़ी आसानी से कर सकते हैं। WhatsApp Pay use करने के लिए आपको सिर्फ अपना बैंक अकाउंट इसमें ऐड करना है और अपनी UPI ID बनानी है।

5.    वर्तमान मे Whatsaap अपनी Privacy Facebook के साथ Share कर रही है और अपने Users को एक notification भी दे रही है जिसे Accept करना बेहद सुरक्षित है ।

Final Words:

ये सब पढ़ने के बाद हम ये तो जरूर कह सकते हैं की messenger App के मार्किट में व्हाट्सप्प का और messenger App से कोई कम्पटीशन नहीं है। व्हाट्सप्प इन सब अप्प से बहुत आगे निकल चुका है और इसकी वजह है इसका टाइम तो टाइम अपडेट होना और नए नए फीचर्स introduce करना। तो अगर अपने अब तक व्हाट्सप्प use नहीं किया है तो अभी जाइये और फ्री messaging और फ्री Cashless Transaction का फायदा व्हाट्सप्प के साथ उठाइये।

Presented By - Knowledge Panel

Written By :- Ajit Yadav

Blog :- https://downloadstatus.xyz

Social Media :- https://www.facebook.com/jeet.yadav.127/ 

Twitter :- https://twitter.com/ajit4u1989


हमे उम्मीद है बताई गई जानकारी आपके लिए बेहतर और Helpful होगी ऐसे ही Knowledgeable और Interesting Hindi Article पढ़ने के लिए Visit करे www.knowledgepanel.in


Share:

Most Amazing Facts and Quotes about Abraham Lincoln (अब्राहम लिंकन की प्रेरणादायक कहानियां)



Hello Friends आज हम बात करेंगे अमेरिका के 16वे ऐसे राष्ट्रपति Abraham Lincoln (अब्राहम लिंकन) की जिन्होने न सिर्फ अमेरिका मे बल्कि पूरे विश्व मे अपने छवि छोड़ दी । 

दुनिया मे ऐसे कई सारे प्रसिद्ध और बेहद उम्दा राजनीतिज्ञ ने अपने अनुभव और बारीक सोच से पूरी दुनिया को अपना दीवाना बनाया है ऐसे ही बेहद सरल और बेहतरीन व्यक्तित्व के धनी थे अब्राहम लिंकन । 

ये Article हमे भेजा है Mr. Rohit Kumar जो की एक बेहद उम्दा Blogger है तो आइये पढ़ते है Rohit के द्वारा लिखी दुनिया के सुप्रसिद्ध राष्ट्रपति Abraham Lincoln के बड़े मे कुछ रोचक बातें । इनके और भी प्रेरणादायक कहानी पढ़ने के लिए Visit करें - https://gurukul99.com/

Share:

Dreams comes True a Beautiful Short story in hindi

short story in hindi

कहते है सपने कभी अपने नहीं होते लेकिन फिर भी हर इंसान अपने जीवन मे अपनी ख्वाइश पूरी करने की जद्दोजहज मे लगा रहता है लेकिन कभी कभी इंसान के सपने पारिवारिक और सामाजिक रीति रिवाजों के बोझ तले दब जाता है तो कभी कभी इंसान इन कुरुतियों से लड़ते हुये अपने दिली ख्वाइश पूरी कर लेता है चाहे वो इत्तिफ़ाक से हो या उन रीतिरिवाजों के दायरे मे हो लेकिन सच तो ये है की काश ये रीतिरिवाज जात पात धर्म का बंधन ना होता तो शायद इंसान धरती पर सबसे ज्यादा सुखी होता । ऐसे ही सामाजिक भावनाओ से जुड़ी है आज की ये लघु कथा जिसे KnowledgePanel के नियमित  Reader Mr. Sourav AnkitChourasia ने भेजा है जो अपने भावनाओं को शब्दों मे पिरो कर पेश किया है, आप इनकी लिखी और भी रचनाओं जैसे कविता,कहानी आदि को इनके Personal Blog - https://blogbyankit.blogspot.com पर पढ़ सकते है

सपने हुये अपने 


कहानी की शुरुआत होती है एक माध्यम वर्गीय परिवार से जहां ठाकुर साहेब अपने धर्मपत्नी और अपनी चार पुत्री और एक पुत्र के साथ बड़े खुशी खुशी ढेर सारे सपने सँजोये अपना जीवन व्यतीत कर रहे थे और अपनी दवा की दुकान से अपने परिवार का भरण पोषण कर रहे थे , वक्त के साथ जीवन अपनी दूरी तय कर रही थी और एक वक्त ऐसा आ गया जहां ठाकुर साहेब को अपनी पुत्री भारती की शादी की चिंता सताने लगी और बहुत असरे बाद वो वक्त भी आ गया जब उनकी पुत्री भारती के रिश्ते के लिए लड़के वाले उनके घर आने वाले थे ये खबर बिना किसी देरी के वो अपनी धर्मपत्नी को देना चाहत थे और ठाकुर साहेब अपने दवा की दुकान से सारे काम निपटा के घर आए

"अजी सुनती हो ठकुराइन !! -  कहां हो ?? ज़रा फ्रिज से ठंडा पानी लेती आओ, बड़ी प्यास लगी है और सुनों अपनी भारती के लिए रिश्ता आया है। लड़का परिवहन विभाग में काम करता है। ज़रा मेरे कमरे में पानी लेकर जल्दी  आओ "--- ये कहते हुए ठाकुर साहब भरी दोपहरीया में पसीना पोंछते हुए अपने कमरे में चले गए (उनकी धर्मपत्नी शिक्षिका हैं।) 

और 2-3 के बाद उनके घर लड़के वाले का आगमन होता है ठाकुर साहेब सारे काम निपटा कर जल्दी घर लौट आए ताकि मेहमानो के खातिरदारी मे कोई कमी ना रह जाए और सच मे मेहमानों की खातिरदारी में ठाकुर साहब ने कोई कसर नहीं छोड़ी। महंगे से महंगे स्वादिष्ट मिठाइयाँ तरह तरह के पकवान परोसे गए। लड़के और उसके परिवार वालों ने भारती को देखा। भारती उन्हें पसंद आ गई।

इसके बाद दौर शुरू हुआ लेनदेन की बातों का। चूंकि लड़का सरकारी नौकरी में था तो हर लडकी के पिता की भांति भारती के पिता भी इस रिश्ते को हाथ से जाने नहीं देना चाहते थे। लेकिन लड़के वालों की मांग सुनकर भारती ने कड़े शब्दों में मना कर दिया था। भारती की मां को भी ये रिश्ता दहेज के कारण मंजूर न था और आखिर में रिश्ते के लिए ठाकुर साहब ने 'ना' कह दिया।


भारती अपने चार बहनों और एक भाई में मंझली थी। उस लड़के से शादी ना होना शायद भारती के लिए अच्छा ही हुआ क्यूंकि वह आगे पढ़ना चाहती थी और कुछ बनना चाहती थी भारती अत्यन्त सुलझी हुई शांत स्वभाव की लडकी थी । हाई स्कूल पास करने के बाद उसने कॉमर्स में अपनी रुचि जताई और इसी में अपना भविष्य ढूंढने में लग गई। हालांकि उसने स्नातक में कॉमर्स की पढ़ाई के साथ- साथ बैंकिंग और अन्य परीक्षाओं के लिए खुद को तैयार करने की कोशिश की ताकि कोई नौकरी पा सके और आगे पीएचडी की पढ़ाई और रिसर्च करने में कोई आर्थिक समस्या न हो। बरहाल, पढ़ाई के दौरान उसके कई दोस्त बने जो उसे काफ़ी अजीज होते थे। इसी दौरान हर लड़की के जैसे भारती के भी कुछ ख्वाब पलने लगे मन किसी लड़के पर आ गया ।

इन्ही मे से एक लड़का था ' भारत' , बहुत मैच्योर, पारिवारिक और व्यवहारिक। इंजीनियरिंग की पढ़ाई के साथ साथ पार्ट टाइम जॉब भी कर रहा था। बातचीत थोड़ी आगे बढ़ी पहले दोस्ती फ़िर प्रेम के आगोश मे डूबते गए , फ़िर घर वाले और समाज, जात पात, उंच नीच का भय दोनों के मन में आने लगा । भारती इस रिश्ते में आगे बढ़ने से पहले अपने पैरों पर खड़ी हो जाना चाहती थी ताकि उसके परिवार वाले राजी खुशी उन दोनों को अपना लें।

खैर समय अपनी गति से चलता है कुछ दो-तीन सालों के बाद भारती यूजीसी नेट क्वालीफाई करती है और कुछ टाइम बाद उसका सलेक्शन गेस्ट लेक्चरर के तौर पर पास के ही कॉलेज में हो जाता है। इधर भारत भी अपनी पढ़ाई पूरी कर एक अच्छे मल्टीनेशनल कंपनी में काम कर रहा थ ।

पढे सच्ची घटना पर आधारित एक सच्ची प्रेम कहानी

कुछ महीने बैंगलोर में काम करने के बाद उसे कंपनी विदेश भेजने की तैयारी में थी ,लेकिन विदेश जाने से पहले वो भारती के साथ घर बसा लेना चाहता था लेकिन परिवार वालों से कहने में संकोच भी करता था । लेकिन
आपसी तालमेल के बाद दोनों एक दिन मुकर्रर करते हैं और अपने परिवार जनों के सामने अपने अपने दिल की बात रखते हैं। काफी मान मनौवल के बाद भारती के माता पिता भारत और उसके माता पिता से मिलने को राजी हो जाते हैं। इधर भारत भी अपने माता पिता को जैसे तैसे कर के मना लेता है। तय दिन में दोनों परिवार वाले मिलते हैं बातों और मुलाकातों के शीलशिला मे आखिरकार जीत 'भारती और भारत' के प्रेम की होती है और शादी तय हो जाती है।


तय तारीख पर दोनों की शादी हो जाती है। दोनों परिवारों के बीच भी धीरे धीरे तालमेल बैठ जाता है और सभी लोग प्रेम से रहने लगते हैं। 

और इस प्रकार ठाकुर साहेब के सपने भी पूरे हो जाते है और भारती अपने मोहब्बत को पाने मे कामयाब भी हो जाती है सपने हकीकत मे बदल तो जाते है।

ये कहानी तो यहीं अपने एक सुखद अंत तक पहुंच गई। लेकिन काश!! ये कहानी वर्तमान मे हर भारती और भारत की होती तो समाज मे फैली इस जात-पात,धर्म,रीतिरिवाज जैसे दूषित बीमारी का निदान हो जाता।

रिश्ते चाहे जैसे भी बने अगर वे प्रेम और संस्कार के प्रांगण मे हो तो उसे कोई रीतिरिवाज और जात पात नहीं रोक सकती ।

Edited By - Mr. Angesh Upadhyay
Presented By - Knowledge Panel


Interesting Hindi Article पढ़ने के लिए Visit करे www.knowledgepanel.in
Share:

What is Probability Full Probability courses for all Students

What is Probability Full Probability courses for all Students

Hello Friends अगर आप एक Student है जाहीर है पढ़ाई करना आपके लिए उतना ही जरूरी होगा जितना आपको भोजन करना और उम्मीद है आप बेहद मन लगा कर दिल से पढ़ते होंगे लेकिन कभी कभी पढ़ाई के दौरान कुछ ऐसे Topics आ जाते है जो Teachers के लाख समझने के बाद भी आपको समझ नहीं आता इसलिए ऐसे ही  जटिल Topics को Clear करने के लिए Knowledge Panel आपके लिए लेकर आ रहा है Online Learning Program (OLP) जहां Experts के द्वारा आपको कुछ छोटे छोटे Topics पर एक विस्तृत जानकारी दी जाएगी जो Hindi एवं English माध्यम के सभी Students के लिए Helpful साबित होगी ।
Share:

Value of your language A beautiful Motivational Story in Hindi

दोस्तों दोस्तों अक्सर कम बोलने वाले लोग चर्चित नहीं होते लेकिन कम बोल कर अच्छा बोलने वाले को सभी याद रखते है। पेश है एक ऐसे ही बेहद संदेशात्मक कहानी जो आपको ये भी बताएगी की अगर आपको कुछ बोलना है तो आपको पहले सुनना सीखना होगा । आपसे आग्रह है की आप इसे पूरा पढे --Value of your language A beautiful Motivational Story in Hindi

Share:

most heart touching love story of purnia,bihar

most heart touching love story of purnia,bihar
हम सभी के जीवन मे कुछ पल ऐसे आते है जिसे हम ना चाहते हुये भी कभी भूल नहीं सकते वो खास पल परछाई की तरह हमेशा हमारे साथ जुड़ी रहती है जिसे हम कुछ देर के लिए छुपा तो सकते है लेकिन उसे कभी हटा नहीं सकते ।
Share:

Featured Post

Majburi ka Nam Mahatma Gandhi Kyun kaha Gya hai

  Hello Friends हम अक्सर अपने दैनिक जीवन मे या फिर अपने बोलचाल के दौरान कुछ ऐसे वाक्य का इस्त्माल करते है जिसका अगर आप गौर करें तो आपको उस...

Translate