Mutual Funds Kya hai and how to earn money from mutual funds in India

Hello Friends अक्सर हम Bank मे या अपने दोस्तो रिस्तेदारों से Mutual Funds , SIP, Lumpsump जैसे investment करने के तरीकों के बारे मे सुनते रहते है लेकिन इसके बारे मे जानकारी ना होने के कारण हम इसे ignore कर देते है तो Knowledge Panel के इसी Segments मे जानते है क्या होता है Mutual Fund और कैसे करते है इसमे Investment ?


how to earn money from mutual funds in india

What is Mutual Funds ?

जिस तरह इसके नाम से ही आप इसका मतलब समझ सकते है Mutual जिसका मतलब होता है परस्पर या साझा और Fund का मतलब होता है कोष या पूंजी इस प्रकार आप समझ सकते है की एक ऐसी पूंजी जो परस्पर सहयोग या साझा करके बनाई गई हो उसे Mutual Fund कहते है  ।


दूसरे शब्दो आप समझ सकते है की Mutual Fund वो Fund जो बहुत सारे Investors से लेकर Shares मे Invest की जाती है ।

जो लोग Share market (शेयर बाजार) में निवेश के बारे में बहुत नहीं जानते, उनके लिए म्यूचुअल फंड (Mutual Fund) Investment अच्छा विकल्प है, Investor अपने Financial Target के हिसाब से Mutual Fund स्कीम चुन सकते हैं।

Click to know- Best Mutual Funds 2019

हमारे देश में कुछ इस तरह के म्यूचुअल फंड (Mutual Fund) हैं?



  • इक्विटी म्यूचुअल फंड (Equity Mutual Fund)
  • डेट म्यूचुअल फंड (Debt Mutual Fund)
  • हाइब्रिड म्यूचुअल फंड (Hybrid Mutual Fund)
  • सॉल्यूशन ओरिएंटेड म्यूचुअल फंड (Solution Oriented Mutual Fund )


इक्विटी म्यूचुअल फंड (Equity Mutual Fund)

ये Schemes, Investors की रकम को सीधे Shares मे Invest करती है । Short Terms Investment के लिए ये स्कीम जोखिम भरी हो सकती हैं, लेकिन Long Term Investment में आपको बेहतरीन रिटर्न कमाने में मदद मिलती है, इस तरह की Mutual Fund स्कीम में निवेश से आपका रिटर्न इस बात पर निर्भर करता है कि शेयर का प्रदर्शन कैसा है।

जिन निवेशकों का वित्तीय लक्ष्य 10 साल बाद पूरा होना है, वे इस तरह की Mutual Fund स्कीम में निवेश कर सकते हैं. Equity Mutual Fund Schemes भी  तकरीबन 10 अलग प्रकार के होते हैं.




डेट म्यूचुअल फंड (Debt Mutual Fund)

ये Mutual Fund Schemes ,डेट सिक्योरिटीज में निवेश करती हैं. छोटी अवधि के वित्तीय लक्ष्य पूरे करने के लिए निवेशक इनमें निवेश कर सकते हैं. पांच साल से कम अवधि के लिए इनमें निवेश करना ठीक है. ये Mutual Fund Schemes शेयरों की तुलना में कम जोखिम वाली होती हैं और बैंक के फिक्स्ड डिपाजिट की तुलना में बेहतर रिटर्न देती हैं यानि इसे Low Risk Investment plan  कह सकते है ।


हाइब्रिड म्यूचुअल फंड (Hybrid Mutual Fund)


ये Mutual Fund Schemes , Equity और Debt दोनों में निवेश करती हैं. इन स्कीम को चुनते वक्त भी निवेशकों को अपने जोखिम उठाने की क्षमता का ध्यान रखना जरूरी है. Hybrid Mutual Fund को भी 6 Category मे बांटा गया है ।


सॉल्यूशन ओरिएंटेड म्यूचुअल फंड (Solution Oriented Mutual Fund )

Solution Oriented Mutual Fund Schemes किसी खास लक्ष्य या समाधान के हिसाब से बनी होती हैं. इनमें Retirement Schemes या Education जैसे लक्ष्य हो सकते हैं. इन Schemes में आपको कम से कम पांच साल के लिए Investment निवेश करना जरूरी होता है।


कैसे करे निवेश ?

आप Mutual Fund के किसी भी Website पे जाकर Direct Investment कर सकते है या फिर किस Mutual fund Adviser से भी इसकी जानकारी लेकर Investment कर सकते है ।

अगर आप Mutual Funds के website से Investment करते है तो वो Direct Schemes के तहत निवेश करना कहलाएगा और अगर आप किसी Mutual Fund एजेंट के द्वारा Investment करते है तो Regular Schemes के तहत निवेश कहलाएगा ।

Direct किसी Mutual Fund के website के द्वारा या फिर mutual Fund के किसी Office मे Investment करने का ये फाइदा है की यहाँ आपको Investment के लिए कोई Commission नहीं देना होगा,अगर आप किसी Agent के द्वारा इनवेतमेंत करते है तो इसमे आपको Commission देना होगा।

आप Mutual Fund के बारीकियों को समझ कर investment करना चाहते है तो आप किसी Mutual Fund Adviser से संपर्क करे उसके बाद सही Mutual Fund चुने ।

ये तो हो गए Mutual Fund मे Invest करने के तरीकों की बात अब आप इसमे पैसा कैसे जमा करेंगे एक बार मे या फिर बार बार आपको Invest करने की जरूरत पड़ेगी इसके लिए आपको SIP (Systematic Investment Plans) या Lumpsum चुनना होगा तो आइये जानते है ये कैसे काम करता है



What is SIP and Lumpsum?
SIP and Lumpsum क्या है ?

SIP 

SIP यानि Systematic Investment Plans , एक निवेशको को Mutual Fund मे Invest करने का एक जरिया है जिसके तहत Investors Mutual Fund मे Invest कर सकते है ।

दूसरे शब्दो मे कहें तो SIP Mutual Fund मे निवेश करने का एक सरल माध्यम है जिसके जरिये आप छोटे  छोटे Amount को Mutual Fund मे जमा कर सकते हैं ।

छोटे छोटे Amount Invest करने के कारण आप SIP के जरिये Mutual Fund मे बेहतर रिटर्न्स पा सकते है।

भारत मे अधिकतर बैंक Recurring Account को SIP मे बदल देती है और  Electronic Clearing Services (ECS) का उपयोग करके  Equity-linked savings schemes के तहत तीन साल तक हर महीने ग्राहक से थोड़ी थोड़ी राशि जमा करवाती है । 

Click Here - Share Market me Treding kaise kare जाने हिन्दी मे 

Lumpsum

Mutual Fund मे अगर कोई Investors छोटे छोटे राशियों को Invest करने के बजाय एक ही साथ लंबे समय के लिए Invest करता है तो वह Mutual Fund के Lumpsum Plan कहते है ।

अगर आप मार्केट के उतार चढ़ाओ को अच्छे से समझते है तो आप के लिए Mutual fund मे Invest करने का सबसे बेहतर तरीका है Lumpsum जहां आप High risk के साथ जबर्दस्त Returns पा सकते है । 

अगर आप Lumpsum के द्वारा Investment करना चाहते है तो आपको  Debt Mutual Fund मे छोटी अवधि के लिए Investment करना चाहिए जिसके risk कम और returns भी ज्यादा मिलेगा । 


कैसे मिलेगा high returns ?

वर्तमान मे Mutual Funds मे कम समय मे High returns मिलने के करना लोग Insurance Policy लेने के बजाए Mutual funds मे पैसा लगाना ज्यादा पसंद करते है । 


तो आइये समझते है कैसे Mutual funds High Returns देती है । 

जैसे की आप जानते है Mutual Funds निवेशकों के पैसे को Shares मे लगती है इसलिए इसमे High returns मिलने के चान्स ज्यादा होती है । अक्सर Share Market मे लगाए पैसे के डूबने का दर बना रहता है, लेकिन Mutual Funds आपका पैसा कभी डूबेगा नहीं। 

क्यूंकि म्यूचुअल फ़ंड आपके पैसे से एक नहीं बल्कि कैसे सारे High returns देने वाली Companies के shares खरीदती है । उदाहरण के लिए अगर आप Mutual fund मे 100 रुपये लगाते है तो Mutual Funds उस 100 रुपये से 10 रुपये के 10 Company के Shares खरीदेगी और ये 10 Companies वो होंगी जिसके Shares के Rate मे कभी ज्यादा गिरावट नहीं आती । चूंकि Shares के Rate मे उतार चढ़ाओ होते रहते है इसलिए अगर कोई एक Company के Shares गिरते है तो बाँकी 9 कंपनी के Shares आपकी बेहतर returns दिलाएगी और अगर सारे Company के shares प्रॉफ़िट मे रहे तो आपको High Returns मिलने से कोई नहीं रोक सकता । 

लेकिन अगर सारे Company घाटे मे चली गई तो क्या होगा ? Indian Market मे ऐसा बहुत कम होता है लेकिन Don't Worry इसके बाद भी आपको वो सारे पैसे मिलेंगे जो अपने जमा किए है और साथ मे थोड़ा प्रॉफ़िट भी मिलेगा । 

उम्मीद है Mutual Funds के बारे मे आपकी जानकारी बढ़ी होगी जो जाइए Invest कीजिये और पैसे बचाइए क्यूंकि आज की बचत ही कल की सुरक्षा है । 


 ये Article कैसा लगा हमे Comment Box मे जरूर बताए । हमे उम्मीद है बताई गई जानकारी आपके लिए बेहतर और Helpful होगी ऐसे ही Knowledgeable और Interesting Hindi Article पढ़ने के लिए Visit करे www.knowledgepanel.in.


Like us on Facebook -  Facebook Click Here

Subscribe on YouTube -  YouTube - Click Here


Like our Entertainment Page -  Thik HaiClick Here


Our Job Panel - Job Panel - Click Here




Share:

0 comments:

Post a Comment

अगर आपको हमारी जानकारी अच्छी लगी या फिर कोई संदेह हो तो हमे बताएं. If you have any doubts please let me know.

Featured Post

Navratri Quotes in Hindi Happy Navratri wishes

Hello friends नवरात्र प्रारम्भ होने जा रहा है इस पवित्र नौ दिन मे हिन्दू धर्म मानने वाले लोग बारे धूम धाम से माता रानी की पुजा अर्चना करते...

Translate