Search This Blog

what is BS3 vehicles. BS3 vehicles kaise pehchane

BS3 bikes kya hai
दोस्तो हमलोग बीते कुछ दिनो से BS3 Vehicles के काफी चर्चा सुन रहे है आपके मन मे ये सवाल जरूर उठता होगा की आखिर क्या BS3 Vehicles ये कैसी होती है, तो आज मैं आपको बताऊंगा की ये है क्या और सरकार ने इस पर पाबंदी क्यू लगाई ।

दोस्तो हमारे देश मे BS3 को वाहनो के Population मापने की एक मानक इकाई के रूप मे इस्त्माल किया जाता है ,जिससे गाड़ियो के Population की जांच की जाती है ।

देशभर मे Population की गंभीर समस्या को ध्यान मे रखते हुये Supreme Court ने ये एहम फैसला सुनाकर सबको हैरान कर दिया,कोर्ट ने सभी ऑटो निर्माण कंपनी को आदेश दिया की वे 1 अप्रैल 2017 से BS3 गड़िया नहीं बेच पाएंगे ,इस फैसले से निर्माता कंपनी को झटका सा लग गया है क्यू की कंपनी के पास ऐसे तकरीबन 8.2 लाख गाड़िया है। कोर्ट ने पहले भी सभी कंपनी को आदेश दिया था लेकिन इसके बाबजूद कंपनी ने स्टाक खाली नहीं किया । कोर्ट ने ये भी कहाँ की ये गाड़िया भारत के लोगों के स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है इसलिए उनके ख्याल रखते हुए ये फैसला लिया गया है ।

What is BS3 ?

आइए अब मैं आपको बताता हु की BS3 मानक है क्या ?


BS का मतलब होता है Bharat Stage इस मानक से यह पता चलता है की आपकी गाड़ी कितना Population फैला रहा है इसके जरिये ही सरकार देश मे फैले Population का पता लगाती है Central Population Control Board ( केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड) इस मानक को निर्धारित करता है भारत मे चलने वाली गाड़ी के लिए ये बेहद जरूरी है दुनिया के हर देश की मानक अलग अलग होती है ।
बीएस मानक के साथ आपको एक नंबर दिया जाता है यही नंबर आपके गाड़ी से निकालने वाले धुए की गंभीरता को बताता है आपके गाड़ी की BS नंबर जितना ज्यादा होगा आपकी गाड़ी उतनी कम प्रदूषण फैलाएगी ।
इस दौरान भारत मे ऑटो निर्माता कंपनी ने भारी छुट के साथ अपनी स्टॉक की गाड़ी को खत्म करने मे लगे है ।

लेकिन दोस्तो अगर आप इन भारी छुट को देखकर गाड़िया खरीद रहे है तो इस बात का ध्यान रखे की ये गाड़िया प्रदूषण फैलाने मे सबसे आगे है । अगर आप अपने देश को प्यार करते है तो ये छुट के प्रलोभन मे न आए और देश की हवा को स्वछ बनाए रखने मे अपनी भागीदारी दे ।

यहाँ पे कुछ कारों और बाइक के नाम है जो BS3 मॉडल को दर्शाते है

Cars Name

  • 1.       Indigo ECS
  • 2.       TATA SUMO
  • 3.       Mahindra BELORO
  • 4.       Mahindra BELORO PICUP

Bikes Name


  • Honda Navi


  • Honda Activa-i


  • Honda Dio


  • Honda Aviator


  • Hona CB Shine SP


  • Honda CB Shine


  • Honda Dream Yuga


  • Honda Livo


  • Honda CBR 150R


  • Honda CBR 250R


  • Hero Maestro Edge


  • Hero Splendor Pro


  • Hero HF Deluxe


  • Hero Glamour


  • Hero Super Splendor


  • TVS Apache RTR 200 4V


  • TVS Apache RTR 160


  • TVS Victor


  • TVS Jupiter


  • Triumph Tiger 800 XR


  • Triumph Tiger 800 XCx


  • Triumph Thunderbird Storm


  • Triumph Thunderbird LT


  • Triumph Rocket III


  • Triumph Daytona 675


  • Ducati Monster 821


  • Ducati Diavel


  • Ducati Scrambler Urban Enduro



Like us on Facebook -  Facebook Click Here

Subscribe on YouTube -  YouTube - Click Here


Like our Entertainment Page -  Thik HaiClick Here


Our Job Panel - Job Panel - Click Here



MI Mobile Phone -MI Mobile Phones

Certified Refurbished Mobiles- Buy Old Smartphones  

High Quality Products at Low Price Best Product you never missed


Mobile Accessories at Low PriceLow price mobile accessories


Act 370 and 35A kya hai janiye puri jankari hindi me

आपको ये Article कैसा लगा हमे Comment Box मे जरूर बताए । हमे उम्मीद है बताई गई जानकारी आपके लिए बेहतर और Helpful होगी ऐसे ही Knowledgeable और Interesting Hindi Article पढ़ने के लिए Visit करे www.knowledgepanel.in




Share:

Adhaar Paytm Ekyc


Adhaar Based Paytm Ekyc Details
ईकेवाईसी क्या है ?
र्इकेवाइसी यानि इलैक्ट्रोनिक नो युअर कस्टमर एक पेपरलैस प्रक्रिया है जिससे आप अपने बारे में ऑनलाइन जानकारी दाखिल कर सकते हैं। यह एक आधार बेस्ड प्रक्रिया है जिसे "नो युअर कस्टमर" के तहत भरा जाता है ।
र्इकेवाइसी यानि इलैक्ट्रोनिक नो युअर कस्टमर एक पेपरलैस प्रक्रिया है जिससे आप अपने बारे में ऑनलाइन जानकारी दाखिल कर सकते हैं। यह एक आधार बेस्ड प्रक्रिया है जिसे "नो युअर कस्टमर" के तहत भरा जाता है। इसके लिए आपको आधार नंबर, पैन नंबर और पर्सनल जानकारी की आवश्यकता होती है।
जब भी आप नया मोबाइल सिम खरीदने जाते हैं या फिर किसी अन्य फाइनेंशियल प्रक्रिया जैसे म्यूच्वल फंड इत्यादि के लिए एप्लार्इ करते हैं तो आपसे आपके बारे में जानकारी लेकर उसे सत्यापन किया जाता है।
इस सब में काफी समय खराब होता था क्योंकि सभी कागजात गैजेटेड ऑफिसर से अटेस्ट किए जाने जरूरी थे। अब इसके लिए ऑनलाइन फॉर्मेट जारी कर दिया गया है। इसे ही र्इकेवाइसी कहा जाता है।
इस प्रक्रिया मे Paytm की हिस्सेदारी
भारत के सबसे बड़े मोबाइल भुगतान और वाणिज्य मंच पेटीएम ने ग्राहक सत्यापन प्रक्रिया को सुविधाजनक, कागज रहित और वास्तविक बनाने के लिए आधार आधारित ईकेवाईसी (नो योर कस्टमर) शुरू किया है। लेनदेन की स्थापना के लिए बैंकों और वॉलेट प्रदाताओं जैसी विनियमित संस्थाओं के लिए कुछ ग्राहक पहचान प्रक्रियाओं को पूरा करना आवश्यक हैं। यह प्रक्रियाएं केवाईसी (अपने ग्राहक को जानिए) बनती है।
                       
एक मूल दस्तावेज केवाईसी प्रक्रिया में व्यक्तिगत रूप से ग्राहक के पहचान और पते के सबूत के मूल दस्तावेजों की पुष्टि करना, फार्म भरना, नवीनतम फोटो और पहचान और पते की प्रतियां जोड़ना और विवरण का सत्यापन, ग्राहक सूचना प्रबंधन प्रणाली में डेटा प्रविष्टि कराना होता है।                                                                                               
           पेटीएम की आधार आधारित प्रक्रिया पूरी तरह से, कागज रहित, त्वरित और सुरक्षित है। ग्राहक की पहचान को तुरंत फिंगरप्रिंट या आइरिस आधार डाटाबेस के सामने बायोमेट्रिक स्कैन के मिलान के आधार पर सत्यापित किया जाता है। जब ग्राहक उनके पेटीएम खाते को अपग्रेड करने के लिए अनुरोध करता है, तो वे उनके निकट के पेटीएम केंद्र का दौरा करना पसंद कर सकते हैं या अपने पसंदीदा पते पर पेटीएम एजेंट से मिलने का अनुरोध कर सकते हैं।
 

Paytm के संस्थापक श्री विजय शेखर शर्मा का जिन्होने ने साल 2016 के शुरुवात मे एक अंग्रेजी अखबार The Economic Times को बताते हुये कहा की –
“We are building India’s largest eKYC customer network to bring half a billion Indians to the mainstream economy. This move is in line with Paytm’s goal of bringing Indians into the fold of the mainstream economy. We have aggressive targets to become the largest Aadhar-based eKYC company in the country,” says Vijay Shekhar Sharma, Founder and CEO, Paytm.
            "हम अर्थव्यवस्था की मुख्यधारा में आधा अरब भारतीयों को लाने के लिए भारत का सबसे बड़ा ग्राहक नेटवर्क बना रहे हैं।"
अपने उपभोक्ताओं को बेजोड़ लचीलापन और सुविधा प्रदान करने के लिर पेटीएम ने भागीदारों, एजेंटों, कियोस्क, और तकनीकी समाधान का एक समृद्ध नेटवर्क बनाया हैं। एक अरब से अधिक आधार कार्ड जारी किए जाने के साथ पेटीएम का मानना है कि अर्थव्यवस्था की मुख्यधारा में 50 करोड़ भारतीयों को लाना मुख्य उद्देश्य है।

जैसा की आप जानते है की Paytm भारत की सबसे बड़ी मोबाइल भुगतान और वाणिज्य मंच है और यह मंच भारत मे सबसे बड़े स्तर से ईकेवाईसी का कार्य कर रही है और भारत के सभी नागरिक को भारतीय अर्थवैवस्था के मूल धारा से जोड़ने का बीड़ा उठाई है ।
Adhaar Based Paytm Ekyc क्या है ।
ई-काॅमर्स कंपनी पेटीएम अपने डिजीटल वाॅलेट कस्टमर्स को अपग्रेड करने के लिए आधार बेस्ड eKYC सिस्टम लाई है। अपग्रेड के बाद कंपनी के डिजीटल वाॅलेट कस्टमर्स और बैंक के अकाउंट होल्डर्स महीने में दस हजार रुपए से ज्यादा का लेनदेन कर सकेंगे। इसके लिए कंपनी अपने कस्टमर्स का वेरिफिकेशन करने के लिए उनके फिंगरप्रिंट और आंखों के स्कैन लेगी। बाद में इसे कस्टमर के आधार कार्ड की डिटेल्स से मिलान करेगी। eKYC का मतलब होता है इलेक्ट्राॅनिक नो-योर-कस्टमर प्रोसेस जो आधार कार्ड आधारित एक इलेक्ट्राॅनिक क्लाइंट ऑथेंटिकेशन सिस्टम है जो इंडिया स्टैक इनिशिएटिव का ही एक भाग है।

इस आधार कार्ड आधारित प्रोसेस से वेरिफिकेशन में लगने वाले लंबे समय से आजादी मिलेगी। इसमें कस्टमर की आइडेंटिटी और एड्रैस को आधार कार्ड के डाटाबेस में पहले से सेव जानकारी के आधार पर फिंगरप्रिंट और आंखों के स्कैन से मिलान कर लिया जाता है। इंडिया स्टैक में एक थर्ड पार्टी या संस्था को आधार कार्ड से वेरिफिकेशन करने के लिए अनुमति दी जाती है। इसमें डिजीटल सिग्नेचर के माध्यम से ई-साइन किए जाते हैं और यूजर की प्राइवेसी और डाटा सेफ रहता है। इस तरह पुरा प्रोसेस कागज रहित हो जाता है। पेटीएम के सीईओ ने इस मौके पर कहा कि इस सिस्टम से हर कस्टमर बायोमैट्रिकली वेरिफाई होगा। साथ ही इससे काले धन और फ्राॅड आदि से भी छुटकारा मिलेगा।
अभी कुछ समय पहले भी हमने आधार कार्ड आधारित eKYC का इस्तेमाल देखा है। कुछ टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर जैसे एयरटेल, वोडाफोन और अभी ही लांच हुआ रिलायंस जियो भी इसका इस्तेमाल कर रहे हैं। साथ ही यह भ घोषणा की गई है कि अब नए कनेक्शन इसी सिस्टम से दिए जाएंगे। अभी रिजर्व बैंक आॅफ इंडिया ने भी अंतिम वर्ष 11 से ज्यादा संस्थाओं को बैंक खोलने के लिए लाइसेंस दिए है जिनमें से पेटीएम भी एक है। इस सिस्टम से ना केवल तीव्र गति से एक्टिवेशन होंगे, बल्कि पूरा प्रोसेस कागज रहित हो जाएगा। हम इस तरह की सर्विसेज की आगे भी उम्मीद कर सकते हैं क्योंकि यह पूरे प्रोसेस को बहुत सिम्पल कर देता है।
आधार Based Paytm Ekyc करवाने के फायदे ।   
Ø इस प्रक्रिया के बाद आधार कार्ड धारी ये जन पाएंगे की उनके द्वारा दिया आया Biometric और Demographic डाटा सरकार के पास सुरक्षित और सही है ।
Ø जैसा की आप जानते है की पूरे भारत मे  paytm सबसे बारे स्तर पर Adhaar Based  Ekyc करवा रही है और Paytm आरबीआई के Guideline के तहत यह कार्य कर रही है तो इस प्रक्रिया के बाद आपका आधार आरबीआई के सर्वर से जुड़ जाएगा  और ऐसी संभावना जताई जा रही है की  भविष्य मे कही भी आपको EKYC करवाने की जरूरत नहीं पड़ेगी ।
Ø ऐसे ग्राहक जो paytm Wallte इस्त्माल करना चाहते है या फिर कर रहे है उन्हे अपना Paytm Wallet Secure  करने और Upgrade  करने के लिए ईकेवाईसी करवानी होगी ।
Ø Adhaar Ekyc करवाने के बाद Paytm user अपने wallet मे 1 lakh रुपय तक रख पाएंगे ।
Ø जो user Ekyc नहीं करवाते है वैसे user अपने paytm Wallet मे सिर्फ 10 हजार ही रख पाएंगे ।
Ø बीते साल 2015 मे आरबीआई के द्वारा Paytm को भारत मे अपना Payment bank की शाखा खोलने की अनुमति मिल चुकी है ।
Ø Ekyc प्रक्रिया के द्वारा आधारकार्ड धारी Paytm Payment Bank के सुवाधाओ का लाभ उठा पाएंगे
Ø Paytm का  साल के शुरुवाती महीनो मे भारत के हर राज्यो मे Paytm Payment Bank की शाखा खोले जाने का लक्ष है ।
Paytm के इस मुहिम के बार मे इक दैनिक समाचार पत्र को बताते हुए Infosys के Co-Founder और UIDIA के पूर्व Chairman रह चुके Nandan Nilekani कहते है की-
                                             “Paytm is making a huge commitment to Aadhaar eKYC and the India Stack. The presence less, paperless, and cashless era is coming soon to the Smartphone in your hand.”
Paytm Payment Bank क्या है ?
बीते साल 2015 मे आरबीआई ने भारत के 11 संस्थान को पेमेंट बैंक का लाईसेंस दिया जिसमे Reliance Industries, Vodafone, Airtel, Paytm और कुछ अन्य संस्थान सामील है
इन सभी संस्थानो मे Paytm ही एक ऐसी संस्थान है जो पूरे भारत मे बड़े स्तर पे कम कर रही है  और साल 2017 के शुरुवात तक Payment बैंक की शाखा खोलने का लक्ष बनाई है ।
Paytm  के पेमेंट बैंक खुलने से भारत के वो सभी लोग जो अपने Smartphone मैं Paytm इस्तमाल करते है या फिर करना चाहते है और जिनहोने आधार बेस्ड ईकेवाईसी करवाए है वो इसका फायदा उठा पाएंगे । ऐसे लोग जो Smartphone  का इस्त्माल नहीं करते है और जिनहोने ने आधार बेस्ड  ईकेवाईसी करवाया है उनका Saving Account Payment bank मे खुल जाएगा और खातेधारी अपने खाते मे 1 लाख तक जमा कर पाएंगे । 
Payment बैंक के सभी खातेधारी को Barcode Based Debit Card दिया जाएगा जिससे वो कही भी किसी भी संस्थान जहां पेमेंट के लेन देन की प्रक्रिया होती है जैसे Shopping Mall, school, College, Railway, सरकारी और गैर सरकारी विभाग इत्यादि मे बिना किसी आतिरिक्त चार्ज के Payment कर पाएंगे ।
Payment  बैंक और Paytm ekyc ,Paytm  Wallet की अधिक जानकारी के लिए इन  वैबसाइट पर जाए
Share:

Featured Post

Top amazing facts in hindi its amazing facts of life

क्या आप जानते है की कोई भी इंसान अपनी सांस रोक कर खुद को नहीं मार सकता ! नींबू मे स्ट्रोबेरी से ज्यादा शक्कर होती है ? आज Knowledge Pa...

Translate